माँ बहन की चुदाई कहानी Chudai ki kahani

हिंदी चुदाई की कहानियाँ,hindi sex stories,भाभी की चुदाई,xxx kahani behan ki chudai,बहन की चुदाई,sex story mummy ki mast chudai,माँ की चुदाई,sex kahani bhabhi ki xxx chudai,new chudai ki kahani baap beti ki xxx,desi devar bhabhi ki hot fuck story with xxx chudai ki photo,desi sex story didi ki bur chudai

भाभी ने बोली जोर जोर से चोदो पेल दो पूरा लंड मज़ा आ रहा है

देवर भाभी की सेक्स xxx हिंदी कहानी,चुदाई की कहानियाँ,भाभी की चुदाई की कामुकता कहानी,प्यासी औरत की अन्तर्वासना की कहानियाँ,Chudai Ki Antarvasna xxx Hindi Sex kahani,Kamvasna xxx Desi kahani,

में मुह खोल कर लंड चूसने लगी उस दिन मुझे लंड चूसने का खूब मज़ा मिला.मैडम मुस्कुराई और मैंने कर दी चुदाई भाभी याद है न फिर तुमने उसका लौडा पकड़ कर मेरी चूत में घुसेड दिया था वह फचर फचर सटासट गचागच गचागच चोदने लगा फिर आपके कहने पर मैंने पीछे से भी चुदवाया उसने मेरी चुन्ची दबा दबा कर भरता बना दिया सच भाभी उस दिन चुन्ची मसलवाने में खूब मज़ा आया था सबसे बाद में झाड़ता हुआ लंड आपने मेरे मुह में घुसेड दिया और कहा तू सारा का सारा मॉल चाट ले इससे तेरी चूत कसी बनी रहेगी और चुन्ची बड़ी बड़ी होती जाएँगी.इस चुदाई के बाद तुमने अपने पति यानी भाई साहब को भी मेरे सामने नंगा किया और मुझे भी मेरा हाथ पकड़ कर उनके लंड पर रख दिया उस दिन भी मैंने जी भर कर चुदवाया तब कुझे मालूम हुआ तुम लोग अपने अपने पति बदल बदल कर चुद्वाती हो इसके बाद तो कई लोगों का लंड मैंने तुम्हारे घर में पकड़े थे मुझे भी लंड पकड़ने और तरह तरह के लोगों से चुदवाने का चस्का लग गया.
अब शादी के बाद पहले तो मैं कई महीनो तक अपने पति से ही चुद्वाती रही पर धीरे धीरे मुझे पराये मर्दों के लंड याद आने लगे इसलिए सबसे पहले मैंने अपने पति को परायी बीवी को चोदने का मौका तलास किया और मुझे कामयाबी भी मिली अबतक मैं चार जोडों के साथ लंड बदल बदल कर चुदाई कर चुकी हूँ. दोस्तों आप ये कहानी अन्तर्वासना-स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है lमेरे पति का लौडा भी तुम्हारे पति के लौडे जैसा है मैंने उनको सब बतला दिया है वह तुमको चोदने के लिए तैयार है हम लोग तो बाद में आयेंगे आज मैं आप के पास दो लड़के भेज रही हूँ इनके नाम है रामू और चंदू तुम इन दोनों से चुद्वाकर मुझे बताना मैंने सुना है की दोनों के लंड बड़े मस्त है और दोनों चुदक्कड है क्योंकि मैंने इनको अभी तक देखा नही है ये दोनों इस्सी ख़त की कापी लेकर आयेंगें तब तुम समझ जाना तुम्हारी चुदासी सहेली ज्योति और हां तेरी बुर को सलाम और भाईसाहब के लंड को चुम्मा.ये चुदाई आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। नटखट भाभी की दमदार चुदाई इस चिट्ठी को पढ़कर मुझे मौसी की करतूतों का पता चल गया मैं समझ गयी की मेरी मौसी नीलू अपने अपने मर्दों की अदला बदली कर के चुद्वाती है मौसा को भी परायी बीविओं को चोदने की लत लग गयी है तभी अचानक मुझे ख्याल आया की मौसी तो है नही मैंने तो अकेली हूँ उसी समय मेरे मन में एक आईडिया आया की क्यों न मैं मौसी बन जाऊँ और इन दोनों लड़को का मज़ा उठा लूँ अरे कल तो शनिवार ही है मैं दूसरे दिन बन ठन कर तैयार ही बैठी थी की शाम को करीब ७.०० बजे वे दोनों आ गए घंटी बजते ही मैंने दरवाजा खोला तो देखा की बाहर दो लड़के खड़े है एक काला और दूसरा गोरा मैंने उनको उंदर बैठाया और चाय नास्ता आदि करवाया.

रामू बोला :- मैडम आप ही ज्योति है
मैंने कहा:- हां मैं ही हूँ

रामू:- तो आपके लिए यह एक चिट्ठी है
मैं चिट्ठी पढने का नाटक करने लगी क्यों की मुझे तो सब मालूम ही था मैंने कहा:- अच्छा तो तुम दोनों मुझे चोदने आए हो

रामू :- हां मैडम ज्योति तो आपकी बड़ी तारीफ कर रही थी हालाँकि मैंने अभी तक उनको देखा नही है मैंने कहा :- मेरे बारे क्या कह रही थीरामू:- कह रही थी की ज्योति चूत चुदवाने में बड़ी उस्ताद है बड़े मज़े ले लेकर चुद्वाती है तुम दोनों को वह मस्त होकर बुर देगी
मैंने पूंछा :- तुम दोनों एक साथ चोदोगे या अलग अलग

चंदू:- मैडम आप जैसे चाहे हम को दोनों तरीकों से मज़ा आएगा
मैंने कहा: अच्छा पहले तुम दोनों मिल कर चोदना फिर अकेले अकेले मैं तुमको बतलाती रहूंगी अच्छा अभी कितनी बुर चोद चुके हो ?

चंदू:- मैंने गिना नही पर १२ या १३ तो हो ही गयीं होगी
रामू:- हां मैंने तो अभी तक १५ – १६ औरतों को चोद चुका हूँ
मैंने कहा ;- शादी शुदा या कुंवारी
माँ का प्यार बड़ा अनोखा होता है

रामू :- हमलोग शादिधुदा औरतों को ही चोदते है क्योकि वे मस्त होकर और निडर होकर चुद्वाती है उनकी चूंची बड़ी बड़ी होती है गांड व चुतड मद मस्त होते है जैसे आप के है और खूब गन्दी गन्दी गालियों देकर लौडा चूस चूस कर मज़ा देती है
मैंने कहा :- तुम दोनों भोसड़ी के बड़े मदर चोद हो अब लगता है बहन की लौड़ी मेरी चूत को मज़ा जरूर आ जाएगा अच्छा यह बताओ की तुमने झांटे बना ली है की नही

रामू :- हमलोग बनाकर आए है तुम्हारी झांट न बनी हो तो मैं बना सकता हूँ
मैंने कहा :- मैंने तो झांट हर रोज बनाती हूँ अब तुम लोग बाथ रूम जाकर फ्रेश हो जाओ तब तक मैं शराब के पैग बना लती हूँ
अब उंदर बेडरूम में हम तीनो पहुँच गए शराब पीने लगे मैं उठी और अपने सारे कपड़े खोल कर फ़ेंक दिया बिल्कुल नंगी हो गयी मैं जाकर सोफा के बीच में बैठ गयी

मैंने कहा :- रामू और चंदू तुम भी नंगे होकर मेरे बगल में आ जाओ अब मेरी दाहिनी तरफ़ रामू और बायीं तरफ चंदू मैंने कहा तुम लोग मेरी एक एक चूंची मसलो और चूसना सुरु करो मैं तुम दोनों के लंड मसल मसल कर खड़ा कर देती हूँ ञार सुपर हॉट लिंगम उन्दोनो के लंड भी तुम्हारे लंड से कम न थे एक काला और दूसरा गोरा दो दो लंड पकड़ कर मेरी चूत और गरमा गयी.मैंने कहा चंदू तुम भोसड़ी के नीचे बैठ कर मेरी चूत चाटना सुरु कर दे तब तक मैं रामू का लंड चूसती हूँ सच उसका लंड चूसने में मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था थोडी देर में मैंने चंदू का लंड चूसना सुरु किया और रामू से अपनी चूत चुस्वाना फिर मैंने रामू को जमीन पर लिटा दिया उसकी दोनों टांगों के बीच में मुह डाल कर लंड चूसने लगी मेरे चुतड ऊपर के ऑर उठे थे तब तक चंदू पीछे से आकर मेरी गांड मारने लगा थोडी देर में मैंने चंदू का लंड हाथ में लिया और रामू से गांड मरवाने लगी.ये चुदाई आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।फिर मैंने रामू को चित लिटाया उसकी तरफ़ गांड करके उसके लंड पर बैठ गयी लंड चूत में घुस गया मैं रामू के ऊपर पीठ के बल लेट गयी तो मेरी चूत और फ़ैल गयी
तब मैंने चंदू से कहा :– बहन चोद चंदू माँ के लौडे तू मेरी चूत में अपना लंड घुसेड दे
उसने ऐसा ही किया अब मेरी चूत में दोदो लंड घुसे थे.
जिंदगी का लुफ्त उठाने का शानदार तरीका

मैंने कहा :– अब तुम जोर जोर से चोदो भोसड़ी वालों पेल दो पूरा लंड मज़ा आ रहा है
चंदू :- तू तो बेटी चोद बड़ी चुदक्कड औरत है साली रंडी भी इस तरह से नही चुदवा सकती जैसे तू बहन चोद चुद्वाती है. ये चुदाई आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।मैंने कहा अबे साले माँ के लौडे चोदता रह अभी तू बुर चोदने में कच्चा है मुझसे कुछ शीख ले अब मैं उठी समझ गयी की लंड झड़ने वालें है मैंने उन्दोनो को खड़ा किया और उनके बीच में घुटनों के बल पर बैठ गयी दाहिने हाथ में रामू का लंड बाएं हाथ में चंदू का लंड दोनों का जल्दी जल्दी सड़का मारने लगी लगी थोडी देर में दोनों एक साथ झाड़ गए मैंने झड़ते हुए लौडों को चूस चूस कर चिकना कर दिया. हां तो दोस्तों और मेरे प्यारे लंड वालों चूत वालियों उस दिन मैंने मौसी का रोल अदा किया मौसी बन कर चुदाई का यह मज़ा मैं कभी नही भूल सकती.कैसी लगी मेरी सेक्स कहानी , अच्छा लगी तो जरूर रेट करें और शेयर भी करे ,अगर कोई मेरी भाभी की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे ऐड करो मोटा लंबा लंड की प्यासी भाभी

माँ बहन की चुदाई कहानी Chudai ki kahani © 2018 Frontier Theme