माँ बहन की चुदाई कहानी Chudai ki kahani

हिंदी चुदाई की कहानियाँ,hindi sex stories,भाभी की चुदाई,xxx kahani behan ki chudai,बहन की चुदाई,sex story mummy ki mast chudai,माँ की चुदाई,sex kahani bhabhi ki xxx chudai,new chudai ki kahani baap beti ki xxx,desi devar bhabhi ki hot fuck story with xxx chudai ki photo,desi sex story didi ki bur chudai

गुलाबी चूत वाली स्कूल गर्ल की चुदाई

कुमारी लड़की की वर्जिन पुसी चुदाई,स्कूल गर्ल की कुंवारी पुसी चुदाई  की दर्दनाक सेक्स कहानी,कुंवारी चूत की सील तोड़ने की कहानी,Desi Xxx Indian Girls Virgin Pussy Fuck Hindi Story,कुंवारी चूत की खूनी चुदाई,

एक दिन, स्कुलवाली लड़की मेरे पास आई, मैथ में कुछ दौब्ट्स लेके. जब मैं उस के दौब्ट्स क्लियर कर रहा था, तो मेरे हाथ पैर बिलकुल ठन्डे पड़ गये थे और कॉप रहे थे. वैसे तो वो जून का महीने था, लेकिन मुहे दिसम्बर जैसे महीने की ठण्ड लग रही थी. कभी-कभी उसको पढ़ाते हुए, मेरा माइंड उसके बूब्स पर चले जाता था. क्या मस्त ३६ के बूब्स थे उसके. मेरा लंड भयंकर रूप से खड़ा होकर बैचेन था और मैं उसे बड़े मुश्किल से कण्ट्रोल किये हुए था. उर्वी भी समझ रही थी, कि मैं उसके साथ ऐसा क्यों बिहेव कर रहा हु.
अब वो भी मुझसे ज्यादा दौब्ट्स पूछने लगी और थोड़ी देर बाद बेल बज गयी और मैंने कण्ट्रोल किया अपने आप को और उससे बोला, कि शाम को मिलते है बेडमिन्टन कोर्ट में. मैं घर गया तो सोच भी नहीं पा रहा था, कि स्कूल की सबसे ब्यूटीफुल लड़की मुझे भाव दे रही है. मैंने बहुत बार सुना था, कि उसे बहुत सारे लडको ने पप्रोपोज किया था, लेकिन उसने सबको एक थप्पड़ मारकर मना कर दिया. मैंने सोचा, कि मुझे कोई थप्पड़ नहीं खाना है और इसलिए उस बात को भूल गया. शाम को, मैं बेडमिन्टन खेलने आता था और वो भी शाम को कोर्ट में बेडमिन्टन खेलने आती थी. ये कहानी आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।वो वहां मिक्स्ड डबल खेलती थी और हमेशा ही हार जाती थी, आल्दो, हम दोनों एक ही जगहऔर एक ही वक्त पर खेलते थे, पर हम दोनों के बीच कभी बातचीत नहीं हुई. उस शाम को वो मेरे पास आई और मुझे उसके साथ टीम अप करने का ऑफर दिया. मैंने भी हाँ कर दी. और उस दिन हम दोने मैच जीत गये. वो बहुत खुश थी और उसलिये उसने मुझे सेलिब्रेट करने के लिए साथ में चलने के लिए कहा. हम दोनों ने साथ में डिनर किया.और फिर मैं उसे उसके घर छोड़कर जा रहा था, कि उसने कहा कि क्या हम क्लोज फ्रेंड बन सकते है? मैंने बोला ये भी कोई पूछने वाली बात है और स्माइल करके चला गया. फिर स्कूल में में हमारी बातें होने लगी. अब जुलाई आ गयी और मेरा बर्थडे आया. उस दिन मैंने स्कूल में बोला, कि मेरा गिफ्ट क्या है? पहले तो वो शर्मा गयी और बोली नहीं लायी. मैंने बोला, अभी लेके दो. पहले तो वो थोडा इधर-उधर देखते रही और फिर मेरे चिक पर एक किस करके धीरे से कान के पास आकर कहा “आई लव यू”. मैं तो जैसे कोमा में था. थोड़ी देर के लिए वहीँ खड़ा रहा और फिर उसने मुझे जोर से हिलाया और पूछा – क्या हुआ? गिफ्ट अच्छा नहीं लगा?

मैं कुछ नहीं बोला और फिर हम दोनों की बात नहीं हो पायी स्कूल में उस दिन. फिर घर पंहुचा, तो उसका मेसेज भी आया, कि सॉरी बुरा मात मानों. वी कैन भी फ्रेंड आल्सो अत्लिस्ट. मैंने भी रिप्लाई किया, “आई लव यू टू” और फिर तो जैसे हम दोनों के लिए दुनिया स्वर्ग बन गयी थी और रोज़ बात करना, सेयिंग “आई लव यू” एंड किसिंग एवेरीडे वाज कॉमन. बट अब नवम्बर आ गया था और ना जाने क्यों मेरे अन्दर सेक्स की भूख बहुत बढ़ गयी थी और उसे भी सेक्स करना था और वो कहती भी थी, कि लेते है. बट मैं मना कर देता था. कि सेक्स बहुत बड़ी चीज़ होती है और उसे करने के बाद लड़की की पूरी जिम्मेदारी हम पर आ जाती है. पर अब मुझे लगने लगा था, कि मैं उससे शादी कर सकता हु और सब कुछ संभाल सकता हु. इसलिए सेक्स कर सकता हु. वो हर ४ दिन में बोलती थी, कि कर लेते है.ये कहानी आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। इस बार, मैंने हाँ कर दी और फिर प्लान बना मेरे घर का. मेरे घर वाले शादी में चले गये थे. मुझे कुछ काम था, तो मैं नहीं जा पाया और घर पर रुका था. जैसे ही मेरा काम ख़तम हुआ, मैंने उसे कॉल कर दिया और वो मेरे घर आ गयी. जैसे ही वो अन्दर आई, मैंने उसे उठाया और सोफे ले जाकर बिठाया और पूछने लगा, पानी पियोगी? वो कुछ नहीं बोली और जैसे ही मैं पानी लेने के लिए टर्न हुआ. उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और इशारा किआ, कि नहीं लेगी पानी. वो उठी और मेरे पास आई. मैंने फिर से पूछा – क्या लोगी? तो उसने मेरा लंड को पकड़ कर बोला, कि ये लुंगी. हर बार वोही किस करती थी. इसलिए इस बार मैंने उसके हाथो को कसके पकड़ा और वाल से उसे चिपका दिया और जोर-जोर से उसे किस करने लगा. मैं जितना डीप अपनी टंग डाल सकता था उसके मुह में, गुसा दी थी. उसके हाथो को वाल से चिपका के उसे डीप किस करने लगा. उसको अपनी बॉडी से प्रेस करने लगा. उसके बूब्स को अपनी चेस्ट से प्रेस करने लगा. साथ में अपने लंड से उसकी चूत भी प्रेस करने लगा.

मैं ऐसा करके उससे चिपक गया, कि मानो उसके अन्दर ही घुस जाना चाहता हु. वो मुझे रेजिस्ट कर रही थी और मुझे पुश करने लगी. वो झेल नहीं पा रही थी इतना हार्ड किस और प्रेस्सिंग. पर मैं भी कहाँ मानने वाला था. लगा रहा अच्छे से. देन कंटिन्यू ७ मिनट के किस के बाद, हम लोग अलग हुए. उसके बाद मैंने उससे पूछा – कैसा लगा, ये कहानी आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।मेरा किस. तो वो स्माइल करके बोली – रोज़ ऐसा ही चाहिए और फिर मुझे जोर से पकड़कर किस करने लगी. इस बार उसने और डीप किस किया और वो रेडी थी ये सब झेलने के लिए.इसलिए वो बिलकुल भी रेजिस्ट नहीं कर रही थी. लेकिन मेरा दिमाग चला और इस बार, मैंने उसका बूब पकड़ लिया और उसे इतना जोर से प्रेस किया, वो चिल्ला उठी और वो मुझे दूर हटाने लगी. लेकिन मैंने उसका दूसरा बूब् भी पकड़ लिया और उसको भी जोर से प्रेस कर दिया. अब मैं उन दोनों को ही बड़े जोर-जोर से प्रेस कर रहा था. १० मिनट प्रेस करने के बाद, वो थक गयी और बोली – अब नहीं करना मुझे. मैंने उसे उठाया और अपने रूम में ले गया और अपने बेड पर लिटा दिया और उसके ऊपर लेट गया और किस करने लगा. अब मेरा इतना ज्यादा खड़ा हो गया था, कि मैं अन्दर उसे नहीं झेल पा रहा था. इसलिए उसने जा ये फील किया, तो मुझे बेड पर रोल करके मेरे ऊपर आ गयी और मेरी टीशर्ट फाड़ दी और मेरी चेस्ट को किस करने लगी. फिर मेरा लोअर भी उतार दिया और मेरे लंड को आजाद कर दिया. मैंने भी देर नहीं की और उसका टॉप उतार दिया, किस करते-करते. उसके सारे कपडे भी. हम दोनों ब्लंकेट के अन्दर थे और एक दुसरे को पागलो की तरह किस कर रहे थे.

मैं उसे बहुत जोर से किस कर रहा था और उसके बूब्स को गलती से भी नही छोड़ रहा था. अब वो पूरी गरम हो गयी और मैंने भी इसलिए उसकी चूत का डोर खोला और अपने लंड को जितनी जोर से अन्दर डाल सकता था, डाल दिया. वो बहुत जोर से चीखी और बोली – निकालो …प्लीज … निकालो इसे अभी. आआआआआअ ऊऊउईईई माँ मर गयीईईईईई. मैंने उसके लिप्स पर अपने लिप्स रख दिए और वो दर्द सहन नहीं कर पा रही थी. मैं वहीँ पर रुक गया और फिर से उसके बूब्स को प्रेस करने लगा. थोड़ी देर बाद, जब वो शांत हुई तो मैंने एक जोर का झटका मारा और मेरा पूरा ८ इच का लंड अन्दर चले गया. ये कहानी आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।वो फिर से चिल्ला उठी, लेकिन इस बार थोडा कम और दर्द को सहन करने लगी थी. मैंने फक करना चालू किया. मैंने बहुत ही ज्यादा जोश में था. इसलिए ५ शॉट्स के बाद ही बहुत फ़ास्ट स्पीड करने लगा और जब भी मैं लंड अन्दर डाल रहा था, तो हर बार पूरा अन्दर डालकर, फिर बाहर निकाल लेता था. मेरा बेड जो आज तक नहीं हिला था, वो जोर-जोर से हिल रहा था, कि मानो टूट जाएगा. मैंने उसके दोनों हाथ पकडे और बेड से चिपका दिए और जोर-जोर से शॉट मारने लगा.वो भी बोल रही थी कि तेज करो करो और तेज. टिअर माय पुसी टुडे … आई ऍम आल योर्स …जस्ट फक मी एज मच एज यू केन. कॉमन … फक मी हार्ड अहहहहः अहहहहः ऊऊऊऊ म्मम्मम्मम .. एस एस एस फक मी. आई लाइक थिस. गिव इट टू मी… एस ..ऊहोहोहोहो. आई वांट इट डीप.. एस … फक मी. प्लीज डोंट स्टॉप. एस ..फक मी डीप. एस माय डार्लिंग. आई लव यू. एस एस … फक मी हार्डर… मोर हार्ड … एस एस. उसने मेरे हाथ पकडे और अपने बूब्स  पर रख लिए और खुद मेरे हाथ दबाकर अपने बूब्स को प्रेस करने लगी. मैं भी उसके बूब्स को दबा रहा था और अब मैंने अपनी स्पीड भी बड़ा दी थी.

फिर मैंने उसे हग किया और फक करना जारी रखा. मैं उसे डीप किस कर रहा था और हार्ड फक कर रहा था. अब मैं एकसाथ तीन चीज़े कर रहा था. उसको किस कर रहा था और उसके बूब्स को जोर से दबाते हुए, उसको मस्त फक भी. मेरी स्पीड इतनी तेज थी, कि पूछो ही मत. जितना दम था, सारा लगा दिया था. वो भी मेरे बेक पर अपने नेल्स से स्क्रेच बना रही थी और मेरी पीठ को नोच रही थी. मुझे दर्द हो रहा था.लेकिन, उस दर्द में एक अलग ही मज़ा था. वो जितना नोचती, तो मैं उतना ही ज्यादा स्पीड बढ़ाता और जोर से किस करता और बूब्स प्रेस करता. वो २० मिनट में ५ बाद झड़ी और अब मेरा भी स्पर्म निकलने वाला था और मैंने पूछा, ये कहानी आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।कहाँ निकालू. तो वो बोली – जहाँ तुम्हारी मर्ज़ी हो. तो मैं उसकी चूत के अन्दर ही झड़ गया और हम दोनों ने एक दुसरे को जोर से हग किया और उसने कहा – आई लव यू. मैं उसके ऊपर ही लेटा रहा और हम दोनों एक दुसरे को जोर से पकड़कर हग करने लगे. उसने कहा – बेबी आई लव यू वैरी मच. मैं बहुत लकी हु, जो मुझे तुम मिले. आई नो, यू आर परफेक्ट फॉर मी. आई नेवर रेग्र्ट चुजिंग यू और मैंने भी उसे स्माइल दी और फिर हम उठे और वो फ्रेश होके आई और जब वो वाशरूम जा रही थी. तो मैंने देखा, कि उसकी गांड भी बहुत सेक्सी थी.कैसी लगी स्कूल गर्ल की चुदाई स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई स्कूल गर्ल की गुलाबी चूत की चुदाई  करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/NehaDhupiya

The Author

कामुकता देसी चुदाई की कहानियाँ

अन्तर्वासना की सेक्स कहानी, देसी कामुकता कहानी, भाई बहन की चुदाई hindi story, माँ बेटे की सेक्स कहानी, बाप बेटी की सेक्स desi xxx kahani, brother sister sex indian xxx stories, chudai story, chudai kahani, sex kahan, hindi xxx story, chudai kahaniya, desi xxx kamukta story, हॉट कामसूत्र कहानी,
माँ बहन की चुदाई कहानी Chudai ki kahani © 2018 Frontier Theme