Home » , , » लंड की प्यासी लड़की की तड़पती जवानी

लंड की प्यासी लड़की की तड़पती जवानी

ये मेरी ज़िन्दगी की पहली चुदाई की घटना है, जिसमें मैंने एक बहुत ही शरीफ लड़की को चोदाशरीफ लड़की ने  मुझसे चुदवाया,उसकी उम्र 20 साल है उसके बूब्स बहुत छोटे छोटे थे और वो पतली जिस्म की मालकिन थी पर उसका चेहरा बहुत ही सेक्सी था जो भी उसे देखे वो बस देखता ही रह जाये।तो फ्रेन्ड्स मैंने अपने दोस्त को कहा की ‘यार मुझे ये लड़की बहुत पसन्द है, मैं इससे दोस्ती करना चाहता हु तू प्लीज़ मेरी इससे दोस्ती करवा दे..’
तो सने कहा ‘कोशीश करेगा..’ क्योंकि उसकी भी गर्लफ्रंड वहीँ रहती थी और उस लड़की की दोस्त थी फिर उसने अपनी गर्लफ्रेंड से बात की और उसने कैसे भी करके उस लड़की को मुझसे दोस्ती करने के लिए मना लिया और मुझे उसका नम्बर दे दिया।

फिर हम रोज़ बात करने लगे और मैंने उसे परपोज़ भी किया लेकिन उसने मना कर दिया। फिर कुछ दिन के बाद उसने सामने से मुझे ‘आई लव यू..’ कह दिया और मेरी गर्लफ्रेंड बन गयी। फिर दोस्तों हम अक्सर चुपके चुपके मिलते थे। कभी रेस्टोरेंट में कभी कॉफी शॉप में तो कभी थिएटर में। पर मैं कभी कुछ नही कर पाया।एक दिन हम होटल में बैठे थे और मैंने उसे उसके होठो पर किस कर दिया तो फ्रेन्ड्स वो रोने लग गयी और उसकी आँखो से आंसू निकल गए और वो वहाँ से चली गयी फिर जब हमारी बात हुई तो उसने कहा उसे ये बिलकुल पसन्द नही है फिर में कभी कुछ नही पाया।लेकिन मैंने भी सोच लिया था इसकी चूत सबसे पहले में ही मारूँगा। कुछ दिन बाद मेरा जन्मदिन आया तो वो मुझसे मिलने आई और मुझे गिफ्ट में सिल्वर रिंग दी तो मैंने कहा मैं गिफ्ट तभी लूंगा जब वो मुझे किस करेगी।कुछ देर तक सोचने के बाद वो आगे आई और उसने मेरे होठो को चूम लिया और मैंने भी उसे अपनी बाँहो में जकड लिया ओर उसे ज़ोर ज़ोर से किस करने लगा। तो वो मुझे रोकने लगी और मना करने लगी पर मुझे तो आज उसकी चूत मारनी थी। ये चुदाई कहानी आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।मैंने नाराज़ होने का नाटक किया और उससे अलग होकर बैठ गया और बहुत देर तक मैंने उससे कोई बात नही की फिर उसने सॉरी कहा और मुझसे गले लग गयी फिर में उसे एक होटल में ले गया।और कमरे में जाते ही उसे पागलों की तरह चूमने लगा और होठो पर बहुत ज़ोर से किस करने लगा और उसके पुरे जिस्म को अपनी बाँहो में ले लिया और मसलने लगा।मैंने उसकी कान की लौ को मुँह में लेकर चूसने लगा। धीरे धीरे वो गर्म होने लगी और उसके मुह्ह से पहली सिसकारी निकली ‘आआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्..।’फिर मैंने उसे बिस्तर पर सुला दिया और मैं उसके ऊपर सो गया और फिर से किस करना शुरू कर दिया इस बार हमारा किस लगभग 20 मिनिट तक चला.फिर मैंने उसकी फ्रॉक उतारी उसने अंदर काले कलर की ब्रा पहनी थी मैंने उसे भी उतार दिया उसके बूब्स बहुत छोटे छोटे और सफ़ेद थे, उसकी निप्पल का दाना गुलाबी कलर का था।

मैं उसके बूब्स पर हाथ फेरने लगा और उस पर अपनी पकड़ मजबूत बनाते हुए थोडा जोर से उसके बूब्स को दबाया तो वो फिर से सिसकारने लगी ‘आःह्हआःह्ह्आआह्ह्ह्.. ऊओह्हऊऊओ..।’कुछ देर मसलने के बाद मैंने उसके बूब्स को अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगा और उसके निप्पल को अपने दांतो से काटने लगा।वो मस्ती में मस्त होती जा रही थी और लगातार उसके मुँह से सिस्कारियां निकल रही थी। फिर मैंने उसकी सलवार भी उतारी उसने काले कलर की पैंटी पहनी थी मैंने उसे भी उतार दिया।
उसका शर्म से मुँह लाल हो गया फिर मैंने अपने कपडे भी उतार दिए और दोनों नंगे होकर एक दूसरे के जिस्म से जिस्म रगड़ने लगे और किस करते रहे।धीरे धीरे मैं उसकी चूत तक अपना मुँह ले गया और जैसे ही मैंने अपनी जीभ उसकी चूत पर रखी उसे बहुत ज़ोर से करंट लगा और वो उ्छल पड़ी फिर मेंने उसकी चूत चाटनी शुरू की तो उसने मेरा मुह अपनी चूत पर दबा दिया और ज़ोर जिर से सिस्कारिया लेने लगी।‘ओहोहोहूऊऊऊह्हब्ब्जूऊह्ह्ह्ह्.. आआआह्ह्ह्ह्आआआह्हह्ह्ह्..’‘और ज़ोर से चूसो जान मेरी चूत को खा जाओ..’ मैंने 10 मिनट तक उसकी चूत चूसी फिर मैंने उसे अपना लण्ड चूसने को बोला पहले वो मना करने लगी फिर वो मान गई,उसने मेरा अंडरवियर उतारा ओर मेरा लण्ड देख कर घबरा गयी और कहने लगी मैं इसे नही लुंगी तो मैंने उसे समझाया की बेबी कुछ नही होगा और क्या मेरे प्यार के लिए तुम इतना भी नही करोगी तो मेरे प्यार के आगे वो मान गई। ये चुदाई कहानी आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।और मेरा लण्ड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी, कुछ देर बाद उसे अच्छा लगा और वो पूरा लण्ड मुँह में लेकर चूसने लगी उसने 5 मिनट तक लण्ड चूसा फिर मैंने उसे लेटा दिया और उसके ऊपर आ गया। और उसकी चूत पर लण्ड रगड़ने लगा उसकी चूत आग की तरह गर्म थी।उसने कहा की ‘उसका पहली बार है मैं आराम से करूँ..’ मैंने एक झटका लगाया तो लण्ड फिसल गया फिर दूसरा झटका लगाया तो भी लण्ड फिसल गया। तो मैंने उसके बैग से कोल्ड क्रीम निकाली और उसकी चूत पर और अंदर लगाने लगा।फिर उसने अपने हाथ से मेरा लण्ड अपनी चूत पर सेट किया और मुझे कहा जान अब करो जेसे ही मैंने लंड एक इंच डाला तो उसे दर्द होने लगा और उसके मून से आवाज़ निकली ‘ऊऊओह्ह्ह्हह्ह्ह्हू… ऊह्ह्ह्ह्हूऊऊऊओह्ह्ह् प्लीज़ धीरे करो..।’मैंने लंड बाहर नही निकाला और एक और झटका दिया इस बार लण्ड आधा अंदर गया और वो ज़ोर से चीखने लगी ‘आआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हूऊ.. ऊऊह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्..’‘प्पप्पल्लल्ज़्ज़्ज़्ज़ बाहर निकालो मैं मर जाऊँगी ऊऊओह्ह्ह्हह्ह्ह्ह प्लीज़..’ और उसकी चूत से खून भी बहने लगा।

मैं कुछ देर ऐसे ही उसके ऊपर रहा 10 मिनट बाद उसने अपनी गांड हिलाई तो मैंने उसे चोदना स्टार्ट किया। मैं उसे धीरे धीरे ही चोदने लगा, अभी भी मेरा 4 इंच लण्ड ही अंदर जा रहा था। कुछ देर ऐसे ही चोदने के बाद मेंने एक कस कर झटका मारा और मेरा पूरा का पूरा लण्ड उसकी चूत के अंदर चला गया।इस बार वो बहुत ज़ोर से चिल्लाई ‘आआःह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हह्.. ऊऊऊओह्ह्हस्सस्स… आआआमम्माआ..’और मैं ऐसे ही चोदते रहा थोड़ी देर बाद वो भी गाँड हिलाने लगी और मुझे किस भी करने लगी। कुछ देर बाद मैंने ज़ोर ज़ोर से धक्के मारने शुरू किये.हर धक्के पर उसके मुँह से आवाज़ निकल रही थी। 10 मिनट तक ऐसे ही चोदने के बाद मेंने उसे अपने ले लिया।अब वो खुद चुद रही थी और उसके चेहरे पर दर्द की जगह अब संतुष्टि दिख रही थी। लगातार 20 मिनट सेक्स करने के बाद मैंने अपना पानी उसकी चूत में छोड दिया और हम दोनों एक दूसरे की बाँहो में सो गये हम दोनों ही खुश थे। ये चुदाई कहानी आप नीऊ चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।कुछ देर आराम करने के बाद मैं पेशाब करके आया और उसे भी करने को बोला पर वो दर्द के मारे चल नही पा रही थी। मैंने उसे उठाया और टॉयलेट में ले गया फिर वापस बिस्तर पर लाकर एक बार और उसे जम के चोदा।उस दिन हमने 2 बार सेक्स किया फिर मैंने उसे मेडिकल से दर्द की गोली और i-pill लाकर दी और फिर उसे उसकी गली के बहार छोड़ दिया.इस तरह हमारी सेक्स लाइफ स्टार्ट हुई उसके बाद हमें जब भी मोका मिलता हम सेक्स करते मैंने उसे इन 2 साल में बहुत चोदा।अगर कोई लंड की प्यासी लड़की की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/KomalJha


1 comments:

Bookmark Us

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter